40. पुरस्कार सम्मान Awards And Honors

नोबेल पुरस्कार 

नोबेल पुरस्कार की स्थापना स्वीडन के वैज्ञानिक अलफ्रेड बर्नहार्ड नोबेल ने 1901 ई. में की थी। अलफ्रेड बर्नहार्ड नोबेल का जन्म 1833 ई. में स्वीडन के शहर स्टॉकहोम में हुआ था। 9 वर्ष की उम्र में वह अपने परिवार के साथ रूस चले गए। पुरस्कार सम्मान Awards And Honors Genius Child’s Happiness Course Online

अल्फ्रेड नोबेल एक अविवाहित स्वीडिश वैज्ञानिक और केमिकल इंजीनियर थे, जिसने 1867 ई. में डायनामाइट की खोज की। स्वीडिश लोगों को उनकी मृत्यु के बाद ही पुरस्कारों के बारे में पता चला, जब उन्होंने उनकी वसीयत पड़ी, जिसमें उन्होंने अपने धन से मिलने वाली सारी वार्षिक आय पुरस्कारों की मदद करने में दान कर दी थी। अपनी वसीयत में उन्होंने आदेश दिया था कि सबसे योग्य व्यक्ति चाहे वह स्कैंडिनेवियन हो या ना हो पुरस्कार प्राप्त करेगा। उनके द्वारा छोड़े गए धन पर मिलने वाला ब्याज उन व्यक्तियों के बीच वार्षिक रूप से बांटा जाएगा, जिन्होंने विज्ञान, साहित्य, शांति और अर्थशास्त्र के क्षेत्र में उत्कृष्ट योगदान दिया है। विश्व के 58,96 0,000 अमेरिकी डॉलर के सबसे अधिक गौरवशाली पुरस्कार को नोबेल फाउंडेशन द्वारा मदद प्रदान की जाती है। 

पहले नोबेल पुरस्कार पांच विषयों में कार्य के लिए दिए जाते थे। अर्थशास्त्र के लिए पुरस्कार स्वेरिजेश रिक्स बैंक, स्वीडिश बैंक द्वारा अपनी 300 वी वर्षगांठ के उपलक्ष्य में 1967 में आरंभ किया गया और इसे 1969 में पहली बार प्रदान किया गया। 

इसे अर्थशास्त्र में नोबेल पुरस्कार भी कहा जाता है। 

English Point
Learn Spoken English Easily

पुरस्कार के लिए बनी समिति और चयनकर्ता प्रत्येक वर्ष अक्टूबर में नोबेल पुरस्कार विजेताओं की घोषणा करते हैं, लेकिन पुरस्कारों का वितरण अल्फ्रेड नोबेल की पुण्य तिथि 10 दिसंबर को दिया जाता है।

प्रत्येक पुरस्कार में 1 वर्ष में अधिकतम 3 लोगों को पुरस्कार दिया जा सकता है। इनमें से प्रत्येक विजेता को एक स्वर्ण पदक, डिप्लोमा, स्वीडिश नागरिकता में एक्सटेंशन और धन दिया जाता है।

अगर एक पुरस्कार में दो विजेता है तो धनराशि दोनों में समान रूप से बांट दी जाती है। पुरस्कार प्राप्तकर्ताओं की संख्या अगर तीन है तो चयन समिति के पास यह अधिकार होता है कि वह धनराशि को तीनों में बराबर बांट दें या 1 को आधा दे दे और बाकी दो को बचा धन बराबर बांट दें।

अब तक केवल दो बार मृत व्यक्तियों को यह पुरस्कार दिया गया है। पहली बार एरी एक्सेल कार्लफल्डट को 1931 ई. में और दूसरी बार संयुक्त राष्ट्र संघ के महासचिव डेग हैमरसोल्ड को 1961 ई. में।

1974 में नियम बना दिया गया कि मरणोपरांत किसी को नोबेल पुरस्कार नहीं दिया जाएगा। Genius Child’s Happiness Course Online

इंटरनेशनल कमेंटी ऑफ रेड क्रॉस को शांति का नोबेल पुरस्कार तीन बार दिया गया है- 1917, 1944 एवं 1963 

सर विलियम हेनरी ब्रेग ने अपने बेटे विलियम एल ब्रेग के साथ भौतिकी का नोबेल पुरस्कार 1980 में प्राप्त किया। 

सबसे कम उम्र में नोबेल पुरस्कार प्राप्त करने वाले पुरुष लॉरेंस ब्रेग (25 वर्ष) एवं महिला मलाला यूसुफजई (17 वर्ष) 

सबसे अधिक उम्र में लियोनिद हरक्विज ने नोबेल पुरस्कार जीता है। उन्हें वर्ष 2007 का अर्थशास्त्र का नोबेल पुरस्कार दिया गया है। उनकी उम्र उस समय 90 वर्ष थी। 

द्वितीय विश्व युद्ध के समय 1940 से 1942 तक नोबेल पुरस्कार नहीं दिया गया 

दो बार नोबेल पुरस्कार पाने वाले व्यक्ति 

1. मैडम क्यूरी- 1903 में रेडियो सक्रियता (भौतिकी) की खोज के लिए और 1911 में शुद्ध रेडियम रसायन के निष्कर्षण के लिए। 

2. लीनस पोलिंग- 1954 में हाइब्रिडाइज्ड कक्षिय सिद्धांत (रसायन) के लिए और 1962 में नाभिकीय परीक्षण निषेध संधि एक्टिविज्म (शांति) के लिए। 

3. जॉन बारडीन- 1956 में ट्रांजिस्टर (भौतिकी) के आविष्कार के लिए और 1972 में अतिचालकता के सिद्धांत (भौतिकी) के लिए।

4. फ्रेडरिक सेंगर- 1958 में इंसुलिन मॉलिक्यूल की संरचना (रसायन) के लिए तथा 1980 में वायरस न्यूक्लियोटाइड के सीक्वेंसिंग (रसायन) के लिए।

नोबेल पुरस्कार विजेता भारतीय/भारतीय मूल के व्यक्ति  

01. रविंद्र नाथ टैगोर- 1910 में एक अंग्रेज कवि डब्ल्यू. बी. यीट्स ने टैगोर की काव्य संग्रह गीतांजलि का अंग्रेजी अनुवाद किया एवं प्रस्तावना लिखी। जिस पर 1913 में टैगोर को नोबेल पुरस्कार मिला। 

02. सी. वी. रमन- इनकी खोज रमन प्रभाव के लिए इन्हें 1930 में भौतिकी का नोबेल पुरस्कार दिया गया।

03. हरगोविंद खुराना- इन्हें 1968 में कृत्रिम जीन के संश्लेषण के लिए चिकित्सा का नोबेल पुरस्कार दिया गया।

04. मदर टेरेसा- इन्हें 1979 में इनके ‘समाज सेवा संबंधी कार्य’ के लिए शांति का नोबेल पुरस्कार मिला।

05. सुब्रमण्यम चंद्रशेखर– इन्हें 1983 में इनकी खोज चंद्रशेखर सीमा के लिए भौतिकी का नोबेल पुरस्कार मिला।

06. अमृत्यू सेन – इन्हें 1998 में कल्याणकारी अर्थशास्त्र के लिए नोबेल पुरस्कार मिला।

07. वी. एस. नायपॉल- इन्हें 2001 में साहित्य का नोबेल पुरस्कार दिया गया है।

08. वेंकटरमन रामाकृष्ण-भारतीय-अमेरिकी रामकृष्ण को अमेरिका के थामस ई स्टेतज और इजराइल की अदा ई योनथ के साथ प्रोटीन का निर्माण करने वाले राइबोसोम की संरचना और कार्य प्रणाली की खोज के लिए संयुक्त रूप से 2009 में रसायन विज्ञान का नोबेल पुरस्कार मिला।

09. कैलाश सत्यार्थी- इन्हें 2014 में पाकिस्तान की मलाला यूसुफजई के साथ शांति के लिए नोबेल पुरस्कार मिला। Genius Child’s Happiness Course Online

Note- 1937, 1938, 1939, 1947 एवं 1948 में गांधीजी को 5 बार शांति पुरस्कारों के लिए नामित किया गया पर एक बार भी उन्हें इस पुरस्कार के लिए नहीं चुना गया।

ऑस्कर पुरस्कार Oscar prize पुरस्कार सम्मान Awards And Honors

इसकी शुरुआत 1929 में हुई थी। यह पुरस्कार विश्व फिल्म जगत के सबसे प्रतिष्ठित पुरस्कार है। यह पुरस्कार नेशनल अकादमी ऑफ मोशन पिक्चर आर्ट्स एंड साइंसेज संयुक्त राज्य अमेरिका द्वारा दिया जाता है। इसका ऑफिशियल नाम एकेडमी अवार्ड ऑफ मेरिट है। यह पुरस्कार प्रतिवर्ष फरवरी माह में हॉलीवुड के कोडक थियेटर में आयोजित एक भव्य समारोह में प्रदान किया जाता है। प्रथम ऑस्कर अवार्ड समारोह रूजवेल्ट होटल में हुआ था। इस पुरस्कार में दी जाने वाली प्रतिमा काली मेटल बेस पर सोने की परत चढ़ा कर बनाई जाती है और इसे पाने वाले लोगों से पहले ही एग्रीमेंट करवा लिया जाता है कि वह इसे बेचेंगे नहीं और अगर बेचेंगे तो सबसे पहले $1 में अकैडमी को ही देंगे।

ऑस्कर के साथ ही नोबेल पुरस्कार को भी प्राप्त करने वाले प्रथम व्यक्ति जॉर्ज बर्नार्ड शा है। इन्हें 1925 में साहित्य के लिए नोबेल और 1938 में बेस्ट स्क्रीनप्ले के लिए ऑस्कर पुरस्कार दिया गया।

ऑस्कर एवं साहित्य के लिए नोबेल पुरस्कार प्राप्त करने वाले दूसरे व्यक्ति बॉब डिलन है, जिन्हें 2000 ई. में ऑस्कर और 2016 ई. में गीतकार के रूप में साहित्य का नोबेल पुरस्कार मिला।

महबूब खां की मदर इंडिया :- 1958 ई. में सर्वश्रेष्ठ विदेशी भाषा फिल्म की श्रेणी में नामांकन पाने वाली पहली फिल्म थी। 

ऑस्कर पाने वाली पहली भारतीय महिला भानु अथैया है जिसने गांधी फिल्म में रिचर्ड एटनबरो की कास्टिंग डिजाइनिंग के लिए यह पुरस्कार जीता था।

सत्यजीत रे पहले भारतीय थे जिन्हें सिनेमा में उनकी उपलब्धियों के लिए 1992 में ऑस्कर का लाइफटाइम अवॉर्ड दिया गया। Genius Child’s Happiness Course Online

रेमन मैग्सेसे पुरस्कार पुरस्कार सम्मान Awards And Honors

यह पुरस्कार फिलीपींस की सरकार द्वारा देश के तीसरे राष्ट्रपति रेमन मैग्सेसे की स्मृति में 1958 से प्रदान किए जाते हैं। 

इस पुरस्कार की स्थापना अप्रैल, 1957 में की गई थी। 

यह एशिया का सबसे प्रतिष्ठित पुरस्कार है तथा इसे एशिया का नोबेल पुरस्कार भी कहा जाता है।

इस पुरस्कार के तहत विजेता को स्वर्ण पदक तथा $50,000 दिए जाते हैं।

यह पुरस्कार 5 क्षेत्रों में दिया जाता है-

1. शासकीय सेवा 

2. समुदाय नेतृत्व 

3. जनसेवा 

4. पत्रकारिता, साहित्य और रचनात्मक संचार कला 

5. अंतरराष्ट्रीय समझ Genius Child’s Happiness Course Online

नोट : फोर्ड फाउंडेशन की सहायता से रेमन मैग्सेसे पुरस्कार (2001 से) छठे क्षेत्र  उद्गामी नेतृत्व के लिए भी दिया जाता है।

मान बुकर पुरस्कार पुरस्कार सम्मान Awards And Honors

1969 ई. से दिया जाने वाला यह पुरस्कार, साहित्य के क्षेत्र में नोबेल पुरस्कारों के बाद सबसे बड़ा पुरस्कार माना जाता है।

यह पुरस्कार बुकर कंपनी एवं ब्रिटिश प्रकाशक संघ द्वारा संयुक्त रूप से दिया जाता है।

यह पुरस्कार किसी एक कथाकृति के लिए राष्ट्रमंडल देशों के कथाकारों को ही दिया जाता है।

मान बुकर अंतरराष्ट्रीय पुरस्कार 2 वर्ष में एक बार अंग्रेजी भाषा में अथवा अंग्रेजी में अनूदित उत्कृष्ट कथा साहित्य के लिए विश्व भर के किसी साहित्यकार को दिया जाता है।

इसके तहत 60,000 पाउंड की राशि प्रदान की जाती है।

मान बुकर पुरस्कार प्राप्त करने वाले भारतीय मूल के लेखक 

1. वीएस नायपॉल- इन ए फ्री स्टेट – 1971 

2. सलमान रशदी- मिडनाइट चिल्ड्रन – 1981 

3. अरुंधति रॉय- द गॉड ऑफ स्मॉल थिंग्स – 1997 

4. किरण देसाई- द इन्हेरिटेंस ऑफ लॉस – 2006 

5. अरविंद अडीगा- वाइट टाइगर – 2008 Genius Child’s Happiness Course Online

ग्रैमी पुरस्कार

ग्रैमी पुरस्कार संगीत के क्षेत्र में अभूतपूर्व उपलब्धियों के लिए दिए जाते हैं।

इन्हें प्रतिवर्ष नेशनल अकैडमी ऑफ रिकॉर्डिंग आर्ट्स एंड साइंसेस द्वारा दिया जाता है।

यह पुरस्कार कुल 108 श्रेणियों में दिए जाते हैं।

इसमें विजेता को एक ट्रॉफी प्रदान की जाती है, जिस पर सोने का पानी चढ़ा पुरानी शैली का एक ग्रामोफोन बना होता है।

सन् 1973 में कंसर्ट फॉर बांग्लादेश नामक रिकॉर्ड के लिए अन्य कलाकारों के साथ भारत के सुप्रसिद्ध सितार वादक पंडित रविशंकर को भी अवार्ड मिला था और फिर 1994 में उनके शिष्य विश्व मोहन भट्ट को मिला।

पुलित्जर पुरस्कार पुरस्कार सम्मान Awards And Honors

1917 में प्रारंभ किया गया पुलित्जर पुरस्कार अमेरिकी प्रकाशक जोसेफ पुलित्जर के नाम पर पत्रकारिता के क्षेत्र में असाधारण योगदान के लिए दिया जाता है।

पत्रकारिता के क्षेत्र में विश्व का सबसे प्रतिष्ठित पुरस्कार पुलित्जर पुरस्कार ही माना जाता है।

यह यू एस ए के कोलंबिया विश्वविद्यालय के द्वारा प्रदान किया जाता है। Genius Child’s Happiness Course Online

गांधी शांति अंतर्राष्ट्रीय पुरस्कार 

यह पुरस्कार 1995 से भारत सरकार द्वारा विश्व शांति में भूमिका निभाने वाले व्यक्ति को दिया जाता है।

गांधी शांति अंतर्राष्ट्रीय पुरस्कार के अंतर्गत ₹1 करोड़ की राशि एवं प्रशस्ति पत्र दिया जाता है। Genius Child’s Happiness Course Online

कलिंग पुरस्कार 

कलिंग पुरस्कार 1952 में प्रारंभ हुआ।

इसे प्रारंभ करने में सबसे प्रमुख भूमिका कलिंग फाउंडेशन के संस्थापक बीजू पटनायक की थी।

अब कलिंग पुरस्कार यूनेस्को द्वारा विज्ञान को लोकप्रिय बनाने के लिए किए गए असाधारण प्रयास के लिए दिया जाता है।

जवाहरलाल नेहरू पुरस्कार 

विश्व शांति और अंतरराष्ट्रीय सद्भाव को बढ़ावा देने में पूर्व भारतीय प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू के योगदान की प्रतिष्ठा में 1965 में शुरू किए गए इस पुरस्कार के अंतर्गत 25 लाख रुपए की राशि दी जाती है।

इस पुरस्कार की घोषणा भारत सरकार का विदेश मंत्रालय करता है।

41. राष्ट्रीय पुरस्कार 

गणतंत्र दिवस पुरस्कार (नागरिक पुरस्कार) Genius Child’s Happiness Course Online

भारत रत्न 

यह कला, साहित्य तथा विज्ञान या बड़े पैमाने पर जन सेवा में उत्कृष्ट कार्य करने के लिए देश का सबसे बड़ा राष्ट्रीय पुरस्कार है।

इसकी शुरुआत 1954 में हुई थी।

यह 26 जनवरी को भारत के राष्ट्रपति के द्वारा दिया जाता है।

इसके मेडल में पीपल के पत्ते के आकार पर सूर्य का चित्र अंकित रहता है।

जनता पार्टी द्वारा इस पुरस्कार को 1977 में बंद कर दिया गया था किंतु 1980 में कांग्रेसी सरकार ने इसे फिर से शुरू किया।

1980 में दोबारा शुरू होने पर इसे सर्वप्रथम मदर टेरेसा ने प्राप्त किया।

मरणोपरांत सर्वप्रथम लाल बहादुर शास्त्री को भारत रत्न से सम्मानित किया गया था।

श्री सत्यपाल आनंद ने राजीव गांधी को मरणोपरांत भारत रत्न देने की प्रक्रिया को उच्च न्यायालय में चुनौती दी थी।

नोट : भारत रत्न एकमात्र ऐसा पुरस्कार है जिसे वरीयता सूची में स्थान दिया गया है।

पद्म पुरस्कार 

पद्म पुरस्कार भारत रत्न के बाद दूसरा बड़ा सम्मान है।

इसे भी भारत रत्न के साथ 1977 में बंद कर दिया गया था तथा 1980 में फिर से शुरू किया गया।

तीन पद्म पुरस्कार है- 

01. पद्म विभूषण 

सरकारी कर्मचारियों द्वारा की गई सेवाओं सहित किसी भी क्षेत्र में विशेष तथा उल्लेखनीय कार्य के लिए दिए जाने वाला दूसरा सबसे बड़ा राष्ट्रीय पुरस्कार है। 

02. पद्मभूषण 

किसी भी क्षेत्र में विशिष्ट कार्य करने के लिए दिए जाने वाला तीसरा सबसे बड़ा राष्ट्रीय पुरस्कार है।

03. पद्मश्री 

किसी भी क्षेत्र में विशिष्ट कार्य के लिए दिए जाने वाला चौथा सबसे बड़ा राष्ट्रीय पुरस्कार है।

प्रमुख पुरस्कार, क्षेत्र एवं राशि

नोबेल पुरस्कार-  साहित्य, चिकित्सा, भौतिकी, रसायन, शांति (सभी 1901 से) एवं अर्थशास्त्र (1969 से) के क्षेत्र में (7 मिलीयन स्वीडिश क्रोनर)

02. पुलित्जर पुरस्कार- पत्रकारिता के क्षेत्र में, 1917 से, $10हजार डालर Genius Child’s Happiness Course Online

03. ऑस्कर पुरस्कार- फिल्म क्षेत्र में, 1929 से 

04. कलिंग पुरस्कार- विज्ञान के क्षेत्र में, 1952 से, 1000 पाउंड 

05. मान बुकर पुरस्कार- साहित्य के क्षेत्र में, 1969 से, 60,000 पाउंड 

06. ग्रैमी पुरस्कार- संगीत के क्षेत्र में, 1958 से 

07. भारत रत्न- कला, साहित्य, विज्ञान के क्षेत्र में विशिष्ट सेवा तथा जन सेवा के लिए

08. दादा साहब फाल्के पुरस्कार- फिल्म के क्षेत्र में, 1969 से, स्वर्ण कमल और ₹10 लाख रुपए 

09. ज्ञानपीठ पुरस्कार- साहित्य के क्षेत्र में, 1965 से, 11 लाख रुपये 

10. रेमन मैग्सेसे पुरस्कार- सरकारी सेवा, जनसेवा, पत्रकारिता, साहित्य, संचार अंतरराष्ट्रीय समझ के क्षेत्र में, 1958 से, $50,000 डालर एवं 2001 से उदगामी नेतृत्व के क्षेत्र में 

11. सरस्वती सम्मान- साहित्य के क्षेत्र में, 1991 से ₹5 लाख

12. वाचस्पति पुरस्कार- संस्कृत साहित्य में उत्कृष्ट योगदान के लिए, 1992 से ₹1 लाख

13. शंकर पुरस्कार- भारतीय दर्शन, संस्कृति तथा कला क्षेत्र में, 1.5 लाख रुपये 

14. व्यास सम्मान- साहित्य के क्षेत्र में 

15. कबीर पुरस्कार- सामाजिक सद्भाव क्षेत्र में 

16. ध्यानचंद पुरस्कार- खेलों में जीवन भर की उपलब्धियों के लिए ₹5 लाख 

17. द्रोणाचार्य पुरस्कार- खेल प्रशिक्षण के क्षेत्र में, 1985 से ₹5 लाख 

18. अर्जुन पुरस्कार- खेल के क्षेत्र में, 1961 से ₹5 लाख Genius Child’s Happiness Course Online

19. राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार- खेलों में सराहनीय प्रदर्शन के लिए, 1992 से, ₹7.5 लाख 

20. भटनागर पुरस्कार- विज्ञान के क्षेत्र में, 1957 से, ₹2 लाख 

21. धनवंतरी पुरस्कार- चिकित्सा के क्षेत्र में, 1971 से 

22. बोरलॉग पुरस्कार- कृषि की पैदावार में उल्लेखनीय योगदान के लिए, 1973 से 

23. बी सी राय पुरस्कार- चिकित्सा के क्षेत्र में

वीरता पुरस्कार 

भारतीय थल सेना, वायु सेना एवं नौसेना के वीर और साहसी सैनिकों को विभिन्न पदकों से सम्मानित किया जाता है।

इन पदकों का विवरण निम्न प्रकार है- 

01. परमवीर चक्र पुरस्कार सम्मान Awards And Honors

यह वीरता के लिए दिया जाने वाला सर्वोच्च पुरस्कार या पदक है, जो थल, जल एवं वायु में दुश्मन के सामने बहादुरी के सर्वोत्कृष्ट प्रदर्शन या आत्म बलिदान के लिए दिया जाता है।

यह मेडल या पदक कांस्य का बना होता है, जिस पर एक ओर इंद्र वज्र अंकित होता है। जबकि दूसरी ओर हिंदी व अंग्रेजी में परमवीर चक्र लिखा होता है। 

परमवीर पदक को सैनिक अपनी कमीज के बाई और बैंगनी रंग के रिबन में लगाता है।

02. महावीर चक्र-

महावीर चक्र दूसरा सबसे बड़ा वीरता पुरस्कार या पदक है, जो थल, जल एवं वायु में दुश्मन के सामने बहादुरी के सर्वोत्कृष्ट कार्य के लिए दिया जाता है। 

यह पदक स्टैंडर्ड चांदी का बना होता है। 

इसका आकार गोल होता है जिसके एक ओर 5 कोण वाले सितारे के बीच में राष्ट्र चिन्ह अंकित होता है, दूसरी ओर कमल तथा हिंदी एवं अंग्रेजी में महावीर चक्र लिखा होता है।

03. वीर चक्र– 

यह तृतीय श्रेणी का वीरता पुरस्कार या पदक है, जो थल, जल एवं वायु में दुश्मनों के सामने साहस, पराक्रम और आत्म बलिदान के लिए दिया जाता है। यह पदक भी स्टैंडर्ड चांदी का बना होता है। इसके एक ओर 5 कोण वाला सितारा तथा अशोक चक्र एवं दूसरी ओर दो कमल अंकित होते हैं।

वीर चक्र पदक को नीली केसरी पट्टी के साथ पहना जाता है। Genius Child’s Happiness Course Online

04. विशिष्ट सेवा मेडल 

यह सेना के कर्मचारियों को असाधारण तथा उच्च कोटि के विशिष्ट सेवा-कार्य के लिए दिया जाता है।

05. अशोक चक्र 

यह पदक थल, जल एवं वायु में साहस, पराक्रम या आत्म बलिदान का अत्यंत ही सराहनीय कार्य दिखाने के लिए प्रदान किया जाता है। 

06. जीवन रक्षा पदक पुरस्कार सम्मान Awards And Honors

डूबने से, आग से या किसी भी तरह से प्राण बचाने के लिए प्रदर्शित साहस एवं वीरता पूर्ण कार्यों के लिए यह पदक प्रदान किया जाता है।

42. दादा साहेब फाल्के पुरस्कार पाने वाले व्यक्ति

1969 देविका रानी रोरिक 

1970 वीरेंद्रनाथ सरकार

1971 पृथ्वीराज कपूर (मरणोपरांत)

1972 पंकज मलिक 

1973 सुलोचना रूबी नायर 

1974 बीएन रेड्डी 

1975 धीरेन गांगुली 

1976 कानन देवी 

1977 नितिन बोस 

1978 राय चंद्र बोराल 

1979 सोहराब मोदी 

1980 पी जयराज

1981 नौशाद अली 

1982 एल वी प्रसाद 

1983 दुर्गा खोटे 

1984 सत्यजीत राय 

1985 वी शांताराम 

1986 बी नाग रेड्डी 

1987 राज कपूर 

1988 अशोक कुमार 

1989 लता मंगेशकर 

1990 आक्लीनेनी नागेश्वर राव

1991 भालजी पेंढारकर 

1992 भूपेन हजारीका 

1993 मजरूह सुल्तानपुरी

1994 दिलीप कुमार

1995 डॉ. राजकुमार 

1996 शिवाजी गणेशन 

1997 कवि प्रदीप 

1998 बी. आर. चोपड़ा 

1999 ऋषिकेश मुखर्जी 

2000 आशा भोसले 

2001 यश चोपड़ा 

2002 देवानंद 

2003 मृणाल सेन 

2004 अडूर गोपाल कृष्णन 

2005 श्याम बेनेगल 

2006 तपन सिन्हा 

2007 मन्ना डे 

2008 वी. के. मूर्ति 

2009 डी. रामानायडू 

2010 के. बालाचंदर 

2011 सौमित चटर्जी 

2012 प्राण 

2013 गुलजार (संपूरन सिंह कालरा) 

2014 शशि कपूर (बलबीर राज)

2015 मनोज कुमार 

2016 के. विश्वनाथ Genius Child’s Happiness Course Online

43. भारत रत्न से सम्मानित व्यक्ति पुरस्कार सम्मान Awards And Honors

1954 – डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन, चक्रवर्ती राजगोपालाचारी, डॉ चंद्रशेखर वेंकटरमन 

1955 – डॉ भगवान दास, डॉ मोक्षगुंडम विश्वेश्वरैया, जवाहरलाल नेहरू 

1957 – पंडित गोविंद बल्लभ पंत 

1958 धोंडो केशव कर्वे 

1961 – विधान चंद्र राय, राजऋषि पुरुषोत्तम दास टंडन 

1962 – डॉ राजेंद्र प्रसाद 

1963 – जाकिर हुसैन, डॉ पांडुरंग वामन काणे 

1966 – लाल बहादुर शास्त्री (मरणोपरांत पुरस्कार पाने वालों में प्रथम)

1971 – इंदिरा गांधी 

1975 – वराह वेंकट गिरी 

1976 – कुमार स्वामी कामराज (मरणोपरांत) 

1980 – मदर टेरेसा 

1983 – आचार्य विनोबा भावे (मरणोपरांत) 

1987 – खान अब्दुल गफ्फार खान 

1988 – मखदूम गोपालन रामचंद्रन (मरणोपरांत)

1990 – डॉ भीमराव अंबेडकर, नेल्सन मंडेला 

1991 – राजीव गांधी, सरदार वल्लभभाई पटेल (मरणोपरांत), मोरारजी देसाई 

1992 – मौलाना अबुल कलाम आजाद (मरणोपरांत), जे आर डी टाटा, सत्यजीत राय 

1997 – एपीजे अब्दुल कलाम, गुलजारी लाल नंदा (मरणोपरांत), अरूणा आसफ अली (मरणोपरांत) 

1998 – एमएस सुब्बूलक्ष्मी, सी सुब्रह्मण्यम, जयप्रकाश नारायण (मरणोपरांत) 

1999 – पंडित रविशंकर, अमृत्य सेन, गोपीनाथ बोर्दोलोई (मरणोपरांत) 

2001 – लता मंगेशकर, उस्ताद बिस्मिल्लाह खान 

2008 – भीमसेन जोशी 

2014 – सचिन तेंदुलकर (सबसे कम उम्र में) एवं चिंतामणि नगेसा, रामचंद्र राव 

2015 – अटल बिहारी वाजपेई, मदन मोहन मालवीय 

नोट : भारत रत्न प्राप्त करने वाले प्रथम व्यक्ति डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन थे।

पुरस्कार सम्मान Awards And Honors Genius Child’s Happiness Course Online

44. ज्ञानपीठ पुरस्कार से सम्मानित साहित्यकार

ज्ञानपीठ पुरस्कार स्वरूप 11 लाख रुपये, वाग्देवी की प्रतिमा और प्रशस्ति पत्र दिया जाता है।

1965 – जी शंकर कुरुप- ऑडा  कुजाई (मलयालम) 

1966 – ताराशंकर बंधोपाध्याय – गणदेवता (बंगला)

1967 – के. वी. पुटप्पा व उमाशंकर जोशी- रामायण दर्शनम (कन्नड़), निशीथ (गुजराती) 

1968 – सुमित्रानंदन पंत – चिदंबरा (हिंदी) 

1969 – फिराक गोरखपुरी – गुले नगमा (उर्दू) 

1970 – विश्वनाथ सत्यनारायण – श्रीमद रामायण कल्पवृक्षम (तेलुगू) 

1971 – विष्णु डे – स्मृति सत्ता भविष्यत (बांग्ला) 

1972 – रामधारी सिंह ‘ – उर्वशी (हिंदी) 

1973 – गोपीनाथ मोहंती एवं डी. आर. बेंद्रे – माली मटाल (उड़िया), चार तार (कन्नड़)

1974 – विष्णु सखा खांडेकर – ययाति (मराठी) 

1975 – पी. वी.  अकिलंदम – चित्रपवई (तमिल) 

1976 – श्रीमती आशापूर्णा देवी (प्रथम महिला) प्रथम प्रतिश्रुति (बंगला)

1977 – डॉ के. शिवराम कारंथ – मुकज्जिया कन सुगुल (कन्नड़)

1978 – डॉ सच्चिदानंद हीरानंद वात्सायन ‘अज्ञेय’ – कितनी नावों में कितनी बार (हिंदी)

1979 – डॉ वीरेंद्र कुमार भट्टाचार्य – मृत्युंजय (असमिया) 

1980 – एस के पोटकट – ओरू देसातिने कथा (मलयालम)

1981 -अमृता प्रीतम – कागज ते कैनवास (पंजाबी) 

1982 – महादेवी वर्मा – यामा (हिंदी)

1983 – वेंकटेश आयंगर – चिकवीर राजेंद्र (तेलुगू)

1984 – तक्षी शिवशंकर पिल्लई – कायर (मलयालम)

1985 – पन्नालाल पटेल – मानवीनी भवाई (गुजराती)

1986 – सच्चिदानंद राउत राय – उड़िया साहित्य 

1987 – विष्णु वामन शिरवाडकर – मराठी साहित्य 

1988 – डॉ सी. नारायण रेड्डी – तेलुगु साहित्य

1989 – कुर्रतुल एन हैदर – उर्दू साहित्य 

1990 – विनायक कृष्ण गोकाक – कन्नड़ साहित्य 

1991 – सुभाष मुखोपाध्याय – बांग्ला साहित्य 

1992 – नरेश मेहता – हिंदी साहित्य 

1993 – डॉ सीताकांत महापात्र – उड़िया साहित्य 

1994 – प्रो. यू आर राव – कन्नड़ साहित्य 

1995 – एम टी वासुदेवन नायर – मलयालम साहित्य 

1996 – श्रीमती महाश्वेता देवी – बांग्ला साहित्य 

1997 – अली सरदार जाफरी – उर्दू साहित्य 

1998 – गिरीश कर्नाड – कन्नड़ साहित्य 

1999 – निर्मल वर्मा एवं गुरदयाल सिंह – हिंदी एवं पंजाबी साहित्य 

2000 – इंदिरा गोस्वामी – असमिया साहित्य 

2001 – राजेंद्र केशव लाल शाह – गुजराती साहित्य 

2002 – डी जयकांतम – तमिल साहित्य 2003 – विंदा करंदीकर – मराठी साहित्य 

2004 – रहमान राही – कश्मीरी साहित्य 

2005 – कुंवर नारायण – हिंदी साहित्य 

2006 – रवींद्र केलकर और सत्यव्रत शास्त्री – कोंकणी एवं संस्कृत साहित्य 

2007 – एबीएन कुरूप – मलयालम साहित्य 

2008 – शहरयार – उर्दू साहित्य 

2009 – अमरकांत व श्रीलाल शुक्ल – हिंदी कथाकार 

2010 – चंद्रशेखर कंवर – कन्नड़ साहित्य 

2011 – प्रतिभा रे – उड़िया साहित्य (पाकुदु राल्लू)

2012 – डॉ रावुरी भारद्वाज – तेलुगु साहित्य 

2013 – केदारनाथ सिंह – हिंदी साहित्य 

2014 – भालचंद्र नेमाड़े – मराठी साहित्य 

2015 – रघुवीर चौधरी – गुजराती साहित्य

2016 – शंख घोष – बांग्ला साहित्य 

2017 -:कृष्णा सोबती – हिंदी साहित्य

पुरस्कार सम्मान Awards And Honors Genius Child’s Happiness Course Online

45. महान कार्यों से संबंधित व्यक्ति पुरस्कार सम्मान Awards And Honors

रेड क्रॉस की स्थापना – हेनरी ड्यूरेंट रेड क्रॉस की स्थापना – हेनरी ड्यूरेंट रेड गार्ड्स की स्थापना – गैरीबाल्डी संस्कृत व्याकरण के जनक –  पाणिनि 

रेड गार्ड्स की स्थापना – गैरीबाल्डी 

संस्कृत व्याकरण के जनक –  पाणिनि 

शांतिनिकेतन की स्थापना – रवींद्रनाथ ठाकुर 

पवनार आश्रम की स्थापना – विनोबा भावे 

लीग ऑफ नेशंस के संस्थापक – वुड्रो विल्सन 

खालसा पंथ के संस्थापक – गुरु गोविंद सिंह 

आरेविले आश्रम (पुदुचेरी) की स्थापना – अरविंद घोष 

स्काउटिंग की स्थापना – बेडेन पावेल 

समाजवाद के प्रवर्तक – आचार्य नरेंद्र देव 

आनंदवन की स्थापना – बाबा आमटे 

विश्व भारती की स्थापना – रवींद्रनाथ ठाकुर 

भूदान आंदोलन के प्रवर्तक – विनोबा भावे 

स्वर्ण मंदिर का निर्माण – गुरु अर्जुन देव 

न्याय दर्शन के संस्थापक – महर्षि गौतम 

निर्मल हृदय के संस्थापक – मदर टेरेसा

पुरस्कार सम्मान Awards And Honors

  1. विश्व में प्रथम Miscellaneous 04
  2. विश्व में सर्वाधिक बड़ा छोटा GK 05
  3. राष्ट्रीय चिन्ह अंतरराष्ट्रीय सीमाएं GK 06
  4. विविध सामान्य ज्ञान Miscellaneous GK 9-15
  5. विश्व की अंतरराष्ट्रीय विमान सेवाएं International Flights
  6. World’s Leading Newspapers विश्व के प्रमुख समाचार पत्र
  7. संसद और गुप्तचर संस्थाएं Name of Parliament
  8. संयुक्त राष्ट्र संघ United Nations Organization
  9. विश्व के प्रमुख संगठन World’s Organizations
  10. राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय दिवस Important Days
Share & Help Others
error6
fb-share-icon100
Tweet 20
fb-share-icon20
लोकप्रिय उपनाम प्रसिद्ध स्थान Famous Names
प्रमुख लेखक पुस्तक Famous Books

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *